स्व विद्या सिंह मेमोरियल संकट मोचन क्लीनिक का किया गया सुभारम्भ

न्यूज 22 इंडिया
रिपोर्ट-शिवशंकर तिवारी
रामसनेहीघाट-बाराबंकी
गरीबो व कमजोर लोगो को सही समय पर सही इलाज करना सही सलाह देकर उनके स्वास्थ्य की रक्षा करना ही एक डॉक्टर का कर्तव्य होता है सेवा की ही भावना सर्वोपरि होनी चाहिये।

उक्त बातें आज सुमेरगंज कस्बे में स्व विद्या सिंह मेमोरियल संकट मोचन क्लीनिक के शुभारंभ के अवसर पर पूर्व मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ बी के सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि समाज मे हर तबके के लोग रहते है उनके स्वास्थ्य की देखभाल करना एक डॉ का पहला कर्तव्य होता है कि वह बीमार व्यक्ति का समुचित इलाज व सही मार्गदर्शन दे।

आज के परिवेश में कुछ लोग इसे एक व्यवसाय के रूप में प्रयोग कर रहे जो इस पेशा में कत्तई उचित नही है।
डॉ श्री सिंह ने उपस्थित लोगों से कहा कि यह क्षेत्र स्वास्थ्य के मामले में बहुत ही पिछड़ा है जांच व अन्य सुविधायें आधुनिक तकनीक से परिपूर्ण सुबिधा लोगो को नही मिल पा रही है ।

इससे इलाज व जांच के लिये लखनऊ जाना पड़ता है जिनका समय व पैसा दोनों का खर्चा महंगा होने के कारण गरीब लोगों का सही इलाज नही हो पाता है यह क्लीनिक खुल जाने से लोगो को सही सलाह व इलाज मिल सकेगा।

इस क्लीनिक का शुभारंभ डॉ समीर गुप्ता ने फीता काट कर किया।इस दौरान ऋषभ जेन, अनुराग गुप्ता, रूप नरायन सिंह, बाबा दिवाकर गुप्ता, दुर्गेश प्रताप सिंह, अंकित सिंह, जय सिंह यादव,

अंकित यादव,महामाया प्रताप सिंह, पिंटू सिंह, हनोमान सिंह, अंकित, जन्तरेश सिंह, धनेंद्र सिंह, विनय सिंह,राकेश वर्मा सहित काफी सख्या में लोग मौजूद रहे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: