तहसील परिसर में ही हो गया विवाद मुकदमा दर्ज

न्यूज 22 इंडिया
रिपोर्ट-राकेश पाठक
बाराबंकी उत्तर प्रदेश
यूपी में पंचायत चुनाव की तारीख भले ही घोषि‍त न हुई हो लेकिन जैसे जैसे समय बीत रहा है पंचायत पर कब्जे की जंग अपराध की शक्ल लेने लगी है. ‘गांव की सरकार’ पर काबिज होने की होड़ में लोग अपराध का सहारा लेने से भी नहीं चूक रही है.

पंचायत चुनाव से पहले आपसी विवाद के बढ़ते मामले कानून-व्यवस्था के लिए चुनौती बनते नजर आ रहे हैं।इसका एक कारण वोटर लिस्ट में खामियां होना भी है ।जहां एक तरफ कई वोटरों के नाम वोटर लिस्ट से गायब हैं वही कई ऐसे भी लोग हैं जिनका नाम दो जगह पर वोटर लिस्ट में शामिल है।

इन्ही बातों को लेकर आज दो राजनीतिक पक्ष तहसील में आपस मे भिड गये मामला नीमामऊ गावँ से ताल्लुक रखता है जहां वोटर लिस्ट में मौजूदा प्रधानमनोज मिश्रा ने आपत्ति दर्ज कराई तो शिवाकांत व उनके पुत्र ने मनोज मिश्रा को पीटना शुरू कर दिया।

तभी उच्चाधिकारियों की सूचना पर पहुची पुलिस में कुछ लोगो को हिरासत में लेकर मुकदमा दर्ज कर लिया है । जानकारी के अनुसार आज तहसील हैदरगढ में उपजिलाधिकारी विजेंदर कटियार व तहसीलदार श्रद्धा चौधरी मतदाता सूची पर आपत्तियां सुन रही थी तभी नीमामऊ के मौजूदा प्रधान मनोज मिश्रा विपक्षी शिवाकांत अवस्थी के नाम को कस्बा हैदरगढ

में होने का हवाला देते हुए कड़ी आपत्ति दर्ज कराई जिसके बाद तहसील परिसर में ही दोनो पक्ष आमने सामने हो गए और आरोप है कि शिवाकान्त व उनके पुत्र ने मौजूदा प्रधान को जमकर पीटा सूचना पर तत्काल पहुची पुलिस ने मारपीट करने वाले पक्ष को थाने ले आयी है उधर घटना से घायल मनोज कुमार मिश्र ने कोतवाली पुलिस को तहरीर दी है।

बताते चले कि दोनों पक्ष का विवाद बीते कई वर्षों से चला आ रहा है सुबेहा व हैदरगढ थाने में विवाद के सम्बंध में मामले पूर्व के दर्ज होना बताया जा रहा है ।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: