मनरेगा कार्यो में जमकर किया जा रहा है भ्रष्टाचार

न्यूज 22 इंडिया
रिपोर्ट-सचिन गुप्ता
सिरौलीगौसपुर बाराबंकी
मनरेगा में 60 – 40 के अनुपात की अनदेखी कर करवाए गए कार्य आधे अधूरे पड़े है। जो कार्य हो चुके हैं उनका भुगतान नहीं हो पा रहा है।

जिले के उच्चाअधिकारियों की शक्ति के बाद अब अनुपात को बराबर करने के लिए गांवों में उल्टे सीधे कच्चे कार्य कराए जा रहे हैं। जल्दबाजी में कराए जा रहे कच्चे कार्यों में भी मानकों की अनदेखी की जा रही।

बताते चलें विकासखंड सिरौलीगौसपुर में अमानक वेंडरों को लाभ पहुंचाने के लिए 60 – 40 का मानक तोड़कर गांवों में जमकर इंटरलॉकिंग सहित तमाम पक्के कार्य शुरू करवा दिए गए जो आधे अधूरे मानक विहीन पड़े हुए हैं।

रेसियो ना पूरा होने के कारण कराए गए पक्के कार्यो का भुगतान लटकने से प्रधान काफी परेशान हैं। रेसियो पूरा करने के लिए गांवों में अब कच्चे कार्यों की भरमार आ पड़ी है। कहीं चक मार्ग पटाई का कार्य किया जा रहा है तो कहीं सड़कों की पटरियां साफ कराई जा रही हैं ।

रेसियो पूरा करने के चक्कर में हो रहे हैं इन कच्चे कार्यों में मानकों की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही। कार्य ठप होने का कारण जब अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी राघवेंद्र पाण्डेय से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि इस समय पक्के कार्यों का समय नहीं है।

अब गांव में कच्चे कार्य कराए जा रहे हैं। आधे अधूरे कार्यो के संबंध में कहा कि यदि कहीं काम ठप है तो उसका कारण विवाद हो सकता है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: